अभिभावक की सहमति हो तभी बच्‍चा जाएगा स्‍कूल, ऑनलाइन क्‍लास भी चलती रहेगी

0
138

बिहार सरकार के निर्देश पर सोमवार से राजधानी के अधिकांश स्कूल खुल गए हैं। स्कूल खुलते ही राजधानी के कई सीबीएसई से मान्यता प्राप्त स्कूलों में प्री बोर्ड की परीक्षा शुरू करने की तैयारी है। जिला शिक्षा अधिकारी ज्योति कुमार ने रविवार को ही एक बैठक कर स्कूल संचालकों को कोरोना गाइड लाइन का सख्‍ती से पालन करने का निर्देश दिया। इस खबर में आपको हम उन सभी नियमों के बारे में बताएंगे, जिन्‍हें जानना हर अभ‍िभावक के लिए जरूरी है।

आधे बच्‍चों को ही बुलाने की अभी मिली है इजाजत

सरकार के निर्देश के अनुसार, स्कूलों में आधे बच्चे ही अभिभावकों की सहमति से आ पाएंगे। आधे बच्चों को दूसरे दिन बुलाया जाएगा। 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए ही स्कूल खोला गया है। स्कूल खुलते ही शहर के कई विद्यालयों में 10 और 12वीं की प्री-बोर्ड की परीक्षा प्रारंभ हो जाएगी। नोट्रेडेम की वरिष्ठ शिक्षिका आभा चौधरी का कहना है कि सोमवार से स्कूल प्री-बोर्ड की परीक्षा शुरू हो गई है, जिससे फिलहाल क्लास नहीं हो पाएगी।

इसी महीने दसवीं और बारहवीं की पहली प्री-बोर्ड परीक्षा

सीबीएसई के सिटी को-ऑर्डिनेटर डॉ.राजीव रंजन सिन्हा का कहना है कि इस वर्ष दसवीं एवं बारहवीं के परीक्षार्थियों को दो प्री-बोर्ड परीक्षा देनी होगी। स्कूल खुलने के बाद जनवरी में पहली प्री बोर्ड परीक्षा होगी। इसके बाद मार्च में दूसरी प्री-बोर्ड परीक्षा आयोजित की जाएगी। कोरोना संकट के कारण स्कूल बंद थे, इसलिए अब तक प्री-बोर्ड की परीक्षाएं नहीं हो पाई थीं।

  • 9 वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए ही खोला गया है स्कूल
  • 30 फीसद की कोर्स में कटौती सीबीएसई ने की, फिर भी स्कूलों के लिए कठिन चुनौती

अभिभावकों की सहमति से रद हो सकती है रविवार की छुट्टी

जिला शिक्षा अधिकारी ने स्कूलों को निर्देश दिया है कि स्कूल प्रशासन चाहे तो अभिभावकों की सहमति से रविवार की छुट्टी रद कर सकता है। इसके अलावा अन्य छुट्टियों के दौरान भी क्लास ली जा सकती है। कोरोना संकट को लेकर मार्च से स्कूल बंद हैं, इसलिए स्कूल छुट्टी के दौरान भी खोले जा सकते हैं।

समय पर कोर्स पूरा कराना बना बड़ी चुनौती

कोर्स पूरा करना स्कूलों के लिए सबसे बड़ी चुनौती है। हालांकि सीबीएसई ने कोर्स में 30 फीसद की कटौती की है। फिर भी मात्र चार माह में दसवीं एवं बारहवीं का कोर्स पूरा करना स्कूलों के लिए कठिन चुनौती रहेगी।

बिहार बोर्ड के स्‍कूलों में नौ से प्रायोगिक परीक्षा

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के निर्देश पर बोर्ड से मान्यता प्राप्त इंटर स्कूल-कॉलेजों में नौ जनवरी से प्रायोगिक परीक्षा आयोजित की जाएगी। इसके लिए बोर्ड की ओर से तैयारी शुरू कर दी गई है। बोर्ड परीक्षा सामग्री स्कूलों को भेजना शुरू कर दिया है। इंटर की प्रायोगिक परीक्षा 18 जनवरी तक चलेगी। वहीं मैट्रिक की प्रायोगिक परीक्षा 20 से 22 जनवरी तक चलेगी।

जारी रहेगी ऑनलाइन क्लास

एसोसिएशन ऑफ पब्लिक स्कूल्स के अध्यक्ष डॉ.सीबी सिंह का कहना है कि स्कूल खुलने के बावजूद ऑनलाइन शिक्षा जारी रहेगी। जो बच्चे स्कूल नहीं आ पाएंगे, वे ऑनलाइन क्लास कर सकते हैं।

नहीं होगी प्रार्थना सभा, खेलकूद की घंटी भी रहेगी बंद

पाटलिपुत्र सहोदय के पूर्व कोषाध्यक्ष एके नाग का कहना है कि स्कूलों में फिलहाल प्रार्थना सभा नहीं होगी। स्कूलों में ऐसा कोई कार्यक्रम नहीं होगा, जिससे बच्चों की भीड़ जमा हो। फिलहाल खेलकूद की घंटी भी रद रहेगी। सांस्कृतिक कार्यक्रम भी बंद रहेंगे। स्कूल के बारह पिकनिक या भ्रमण का कार्यक्रम भी फिलहाल बंद रहेगा।

अभिभावकों के लिए आवश्यक सलाह

  • बच्चों को मास्क पहनाकर ही भेजें
  • सैनिटाइजर भी दे दें ताकि जरूरत पडऩे पर बच्चा उपयोग कर सके
  • बच्चों को बाथरूम के नल छूने के बाद एवं लंच करने से पहले हाथ को सैनिटाइज करना जरूरी
  • बच्चों को समझाएं कि स्कूल और बस में दूरी बनाकर रखे
  • क्लास या लंच के दौरान बच्चा भीड़ में न जाए
  • तबीयत खराब होने पर स्कूल प्रशासन को तत्काल सूचित करें
  • अभिभावक भी बिना मास्क स्कूल में जाने की जिद न करें
  • स्कूल गेट पर भीड़ होने पर थोड़ी देर इंतजार कर लें

जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा दिए गए महत्वपूर्ण निर्देश

  • किन छात्रों को बुलाना है स्कूल प्रशासन तय करेगा
  • ऑड एवं इवेन नंबर का भी किया जा सकता उपयोग
  • स्कूल सैनिटाइज होने के बाद ही बच्चे करेंगे प्रवेश
  • बिना मास्क के स्कूल में शिक्षक, बच्चे, अभिभावक का प्रवेश नहीं होगा
  • स्कूल में हर महत्वपूर्ण जगहों पर सैनिटाइजर रहेगा
  • स्कूल अवधि में शौचालय का सैनिटाइज दो बार किया जाएगा
  • स्कूलों में थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था होगी
  • स्कूल के गेट पर ही मास्क की विशेष व्यवस्था होगी
  • हर स्कूल में कोविड केयर कमेटी का गठन होगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here