एकमा में सीएसपी संचालक को गोली मारकर छह लाख की लूट, उपचार के दौरान हुई मौत

0
180

एक बाइक पर सवार तीन अज्ञात अपराधियों ने दिया वारदात को अंजाम

नाराज लोगों ने दाउदपुर बाजार बंद कर छपरा-सिवान हाईवे को किया जाम

छपरा:-एकमा थाना क्षेत्र में स्थित सिवान-छपरा नेशनल हाइवे 53 पर माने मठिया गांव के समीप सोमवार को बेखौफ अज्ञात अपराधियों ने एकमा एसबीआई से संबद्ध एक सीएसपी संचालक से लगभग छह हजार रुपयों से भरा बैग छिन कर फरार हो गया। इसके पूर्व सीएसपी संचालक द्वारा इसका वीरोध करने पर एक बुलेट बाइक पर सवार तीन अज्ञात अपराधियों ने सीएसपी संचालक को गोली मारकर गंभीर रुप से जख्मी कर दिया। उधर वारदात की सूचना पाकर घटना स्थल से गंभीर रुप से जख्मी व बेहोशी की हालत में सीएसपी संचालक को उपचार एकमा थाने की पुलिस, परिजनों व ग्रामीणों की मदद से उपचार हेतु एकमा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया गया। जहां ड्यूटी पर तैनात डॉ. मंदाकिनी ने प्राथमिक उपचार करके बेहतर उपचार हेतु सदर अस्पताल रेफर कर दिया। इस बीच सदर अस्पताल छपरा ले जाने के दौरान गंभीर रुप से घायल दाउदपुर थाना क्षेत्र के बनवार गांव निवासी मुकेश कुमार गुप्ता (35) ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।
वहीं लूट व हत्या की वारदात से नाराज लोगों द्वारा सिवान-छपरा हाईवे पर दाउदपुर में सड़क जाम करके जमकर बविल काटा गया। सड़क जाम कर रहे लोगों द्वारा संबंधित पुलिस अधिकारियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए लूट व हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तार करने सहित लूट की रकम भी बरामद करने की मांग की गई। वहीं सड़क जाम के चलते यातायात अवरुद्ध होने से लोगों को काफी परेशानी भी उठानी पड़ी। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के समुचित आश्वासन के बाद सड़क जाम हटाने पर सड़क यातायात सामान्य हो सका।
सूचना पाकर घटना स्थल सहित एकमा सीएचसी पर प्रभारी एकमा थानाध्यक्ष शिशुपाल सिंह के अलावा दाउदपुर थानाध्यक्ष सुजीत कुमार चौधरी, मांझी थानाध्यक्ष नीरज मिश्रा व रसूलपुर थानाध्यक्ष रामसेवक राउत भी पहुंच कर हत्या व लूट की वारदात को अंजाम देने वाले अज्ञात अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु आवश्यक रणनीति बनाकर दबिश क्षेत्र में कांबिंग करने में जुट गए।
इस बीच एकमा थाने के प्रभारी थानाध्यक्ष शिशुपाल सिंह के द्वारा मृतक के शव को सदर अस्पताल ले जाकर पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को लाकर सौंप दिया गया। पुलिस ने बताया कि चूंकि छपरा-सिवान मुख्य सड़क मार्ग पर नाराज लोगों द्वारा सड़क जाम किया गया हुआ था। इसलिए बैकल्पिक सड़क मार्ग छपरा-रिविलगंज-मांझी के द्वारा पोस्टमार्टम के बाद शव को लाया गया।
बताया गया है कि भारती य स्टेट बैंक के एकमा शाखा से संबद्ध सीएसपी संचालक बनवार गांव निवासी महेश प्रसाद गुप्ता के 35 वर्षीय पुत्र मुकेश कुमार गुप्ता द्वारा माने/दाउदपुर में सीएसपी का संचालक किया जाता था। वह सोमवार को एकमा ब्रांच से लगभग छह लाख रुपये की निकासी कर बाइक से दाउदपुर लौट रहा था। तभी एकमा थाना क्षेत्र के माने मठिया गांव के समीप एक बुलेट बाइक पर सवार तीन अज्ञात अपराधियों ने उसका पीछा कर हथियार के बल पर रोक लिए। इसके बाद रुपये से भरे बैग को छिनने का प्रयास किया। मुकेश ने संभलते हुए अपनी बाइक छोड़ कर भागने का प्रयास किया। इस बीच अपराधियों ने अपनी पिस्टल से फायरिंग कर दिए। जिसमें से एक गोली मुकेश के छाती व पिठ से होकर आरपार हो गई। जिससे मुकेश घटनास्थल पर ही सड़क के किनारे गिर पड़ा। पुलिस व स्थानीय लोगो की सहायता से उसे एकमा सीएचसी में भर्ती कराया गया। चिकित्सकों द्वारा मौत की पुष्टि के बाद एकमा एवं दाउदपुर पुलिस ने पहुंच कर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए छपरा भेज दिया। उसके बाद घटना के विरोध में दाउदपुर बाजार के लोगों ने अपनी दुकानें बंद कर दी। वहीं आक्रोशित लोगों ने सीएसपी के सामने मुख्य मार्ग पर वाहनों को रोक कर आगजनी कर सड़क पर आवागमन बाधित कर दिया।उल्लेखनीय है कि पूर्व में भी इसी तरह की लूट की वारदात इस एकमा व दाउदपुर के बीच इस हाईवे पर हो चुकी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here