गोपालगंज का सारण तटबंध दो जगहों पर टूटा सैकड़ो गांवो में पानी मची हाहाकार

0
75

गोपालगंज जिला में बाढ़ ने अपना रौद्र रूप धारण कर लिया है। गोपालगंज के सारण मुख्य तटबंध दो जगह माझा प्रखंड के पुरैना और बरौली प्रखंड के देवापुर गांव के समीप टूट जाने के कारण स्थिति काफी भयावह हो गई है ।गोपालगंज जिले के दर्जनों सैकड़ों गांव नहीं बल्कि सिवान और छपरा में भी स्थिति बद से बदतर होने की संभावना प्रबल हो गई है। जिस तेजी से गांव में पानी प्रवेश कर रहा है ऐसा लग रहा है कि मात्र 8 से 12 घंटों में चारों तरफ तबाही ही तबाही नजर आ सकती है। देवापुर गांव की अकेले बात करें तो पूरे गांव में हाहाकार मचा हुआ है स्थिति ऐसी है कि ईस्ट एंड वेस्ट कॉरिडोर पर भी पानी का ओवरफ्लो होने की संभावना प्रबल होता जा रहा है ।हालांकि इस पर ज्यादा पुलिया होने के कारण तेजी से पानी बह रहा है ।आवागमन भी प्रभावित होने की संभावना बढ़ती जा रही है । देवापुर और पुराना तटबंध के टूटने से बरौली सिधवलिया प्रखंड सहित जिले के आठ से दस लाख की आबादी प्रभावित हुई है। वही बात करें प्रशासनिक तैयारियों की तो ग्रामीणों में काफी आक्रोश है कि समय रहते किसी भी तरह का समुचित व्यवस्था नहीं किया गया । ग्रामीणों का कहना है कि सूचना देने के बाद भी रिंग बांध एवं सारण तटबंध बांध का रखरखाव ठीक ढंग से नहीं किया गया जिसका नतीजा है कि आज बच्चे बूढ़े से लेकर मवेशियों तक के जान पर खतरा बना हुआ है ।सुबह में ऐसी सूचना आई कि एक 12 वर्षीय बच्चा भी पानी की तेज धार में बह गया जिसके बाद उसे ढूंढने का प्रयास जारी है । वही इस बाढ़ की विभीषिका में सांसद सहित प्रभारी मंत्री तथा आपदा मंत्री का अभी तक एक बयान भी नहीं आना इनके गैर जिम्मेदाराना रवैया को दर्शाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here