छपरा में मिले 15 कोरोना पॉजिटिव मरीज, संख्या हुई 309

0
79

छपरा :-जिले में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैलने लगा है। ऐसी स्थिति में थोड़ी सी लापरवाही लोगों को भारी पड़ सकती है। क्योंकि प्राय: प्रतिदिन कुछ न कुछ मरीज शहर से लेकर जिले के अन्य प्रखंडों में पाए जा रहे हैं। अगर किसी दिन कोई मरीज नहीं पाया गया तो अगले दिन एक साथ डेढ़ से तीन दर्जन तक पॉजिटिव रिपोर्ट आ रही है। गुरुवार को भी जिले से एक साथ 15 पॉजिटिव रिपोर्ट आई है। इसमें पुन: कुछ स्वास्थ्य कर्मी और सरकारी विभागों के कर्मचारी भी शामिल है। यह पॉजिटिव रिपोर्ट राज्य मुख्यालय के कोरोना अपडेट के तहत आई है जबकि जिला प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं है।सिविल सर्जन डॉ माधवेश्वर झा ने इस बात की पुष्टि नहीं की है। उन्होंने बताया कि उन्हें अभी तक पटना से ऐसी कोई सूची प्राप्त नहीं हो सकी है। यहां बता दे कि जिले में कोराना से अब तक सात लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं सिर्फ शहर से पॉजिटिव मरीजों की संख्या 80 से अधिक हो चुकी है। वहीं जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजो की संख्या 309 तक पहुंच चुकी है। जिनमें से करीब 220 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके है। जबकि फिलहाल लगभग 60 मरीजों को भर्ती कर उपचार किया जा रहा है। यहां बता दे कि अब तक जिले से व्यवहार न्यायालय के कोर्ट मैनेजर, डीआरडीए कार्यालय के आधा दर्जन कर्मचारी एवं डीआईजी कार्यालय के भी आधा दर्जन कर्मचारियों के साथ उनके परिवार के सदस्य भी पॉजिटिव हो चुके है। और तो और अब सदर अस्पताल के टीबी सेंटर के लैब टेक्निशियन के साथ विभाग के डाटा इंट्री आपरेटर एवं पर्यवेक्षक भी पॉजिटिव हो चुके हैं और उनके परिवार के सदस्यों का भी सैंपल कलेक्ट किया गया है। जिसके कारण अस्पताल कर्मियों में भी हड़कंप मचा हुआ है। वहीं कोरोना से मृत अधिवक्ता के परिजनों का सैंपल कलेक्शन किया जाना है।

कंफर्मेशन किट पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं होने से जांच हो रहा प्रभावित

यहां बता दे कि सदर अस्पताल में ट्रूनेट जांच मशीन से कोरोना जांच आसान हो चुका है लेकिन उस मशीन से पॉजिटिव आने वाले रिपोर्ट को कंफर्म करने के लिए कंफर्मेशन किट काफी कम संख्या में सदर अस्पताल को उपलब्ध कराया गया था। इस किट के समाप्ति के कारण ट्रूनेट मशीन से पॉजिटिव पाये जाने वाले रिपोर्ट को कंफर्म नही किया जा पा रहा है। जबकि पटना में पहले से सदर अस्पताल का रिपोर्ट बैकलॉग चल रहा है। ऐसी स्थिति में सदर अस्पताल को पर्याप्त कंफर्मेशन किट उपलब्ध नही होने के कारण जिले का जांच काफी प्रभावित हो रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here