पत्रकार अर्णव गोस्वामी की गिरफ्तारी से आक्रोशित छपरा के पत्रकार संघ ने किया विरोध प्रदर्शन

0
41

छपरा:-महाराष्ट्र सरकार के दमनकारी नीति के खिलाफ छपरा के पत्रकार सड़क पर उतर विरोध प्रदर्शन किया रिपब्लिक टीवी के प्रमुख अर्नब गोस्वामी के गिरफ्तारी से आक्रोशित पत्रकारों ने विरोध प्रदर्शन कर महाराष्ट्र सरकार और महाराष्ट्र पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की बताते चलें कि महाराष्ट्र पुलिस द्वारा वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी अमानवीय तरीके से की गई जिसको लेकर पत्रकारों में खासा आक्रोश है।छपरा शहर के नगरपालिका चौक से विरोध मार्च निकालकर थाना चौक होते हुए पुणे नगरपालिका चौक पर समाप्त हुआ।महाराष्ट्र सरकार मे पिछले दिनो पुलिस प्रशासन द्वारा जिस तरह एक राष्ट्रीय चैनल के एंकर को गिरफ्तार किया गया है। वह पुरे भारत के लिए शर्मनाक है व आनेवाले समय के लिए सही नही है. पत्रकार एक समाज का प्रतिष्ठित व्यक्ति होता है जिसके उपर समाज मे घटती हर छोटी बड़ी खबरों से समाज व सरकार को अवगत कराने के साथ ही सत्य को दिखाने की जिम्मेदारी होती है. आये दिन किसी न किसी क्षेत्र मे पत्रकार के साथ दुर्व्यवहार की घटना सामने आती रहती है लेकिन जिस तरह से महाराष्ट्र पुलिस प्रशासन द्वारा देश मे चर्चित टीवी चैनल रिपब्लिक भारत के मुख्य संपादक सह चैनल प्रमुख अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी की गई है वह कतई सही नही है जिसका विरोध सारण जिला मे संचालित पत्रकार संगठन NUJ(I) के दर्जनों सदस्यों सहित आम लोगो ने भी अपना प्रतिरोध दर्ज कराया व महाराष्ट्र सरकार व पुलिस प्रशासन के विरूद्ध जमकर नारेबाजी की।विरोध मार्च के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए महासचिव राकेश सिंह ने कहा महाराष्ट्र सरकार के इस अमानवीय तरीके का हम पुरजोर विरोध करते हैं जिस तरह से एक वरिष्ठ पत्रकार के साथ दुर्व्यवहार पूर्ण व्यवहार किया गया और उसे अवांछित तत्वों की तरह बर्ताव किया गया यह महाराष्ट्र सरकार और महाराष्ट्र पुलिस के कुंठित मानसिकता का परिचायक है वही प्रेस को संबोधित करते हुए वरीय पत्रकार अरविंद सिंह ने कहा कि महाराष्ट्र में हालात 1975 के आपातकाल की तरह हो गया है पत्रकारों पर पुलिसिया दमनकारी कार्यवाही लोकतंत्र के लिए खतरे की घंटी है महाराष्ट्र सरकार के गुप्त मानसिकता का हम पुरजोर वर्ष ना करते हुए रिहाई तक चरणबद्ध आंदोलन करने का एलान करते हैं।इस कार्यक्रम में सारन जिला के पत्रकार सदस्यों के साथ आम जनमानस का भी भरपूर सहयोग मिला विरोध मार्च में छपरा शहर के रहवासी भी रूचि लेते हुए महाराष्ट्र सरकार के इस अमानवीय और कराना पूर्ण घटने का पुरजोर विरोध की है इस विरोध मार्च में मुख्य रूप से धनंजय सिंह तोमर, मनोरंजन पाठक, पंकज जयसवाल, अरविंद सिंह, संजय भारद्वाज, उमेश शर्मा ,नीरज कुमार, मनजीत सिंह, बसंत सिंह, शकील हैदर, धनंजय कुमार गोलू, सुरभि दत्त, राहुल सिंह, कबीर अहमद, विपिन मिश्रा, दिवाकर मिश्रा, शशी सिंह, जितेंद्र कुमार, रंजीत भोजपुरिया सहित सैकड़ों लोग शामिल रहे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here