फ्री एजुकेशन फॉर ऑल” अभियान को गति देने के लिए नेशनल एडवायजरी कमिटी गठित

0
634

पटना (21 मई 2020) : टेक्नो हेराल्ड संस्थान द्वारा “फ्री ऑनलाइन एजुकेशन फॉर ऑल” कैंपेन को गति देने के लिए एक नेशनल एडवायजरी कमिटी का गठन कर लिया गया है जिसमें श्रवण कुमार, अभिषेक आनन्द, राहुल, रितेश अम्बष्ठ, कौशलेंद्र प्रताप सिंह, सुशील कुमार नैन, कुमैल आलम, विशाल कुमार, सौरव कुमार, हिमांशु कुमार, सुष्मिता कुमारी, अर्जेश राज शामिल हैं। टेक्नो हेराल्ड संस्था के वरिष्ठ सलाहकार धनंजय कुमार सिन्हा इस नेशनल एडवायजरी कमिटी के प्रमुख के तौर पर अपनी सेवाएं देंगे।

नेशनल एडवायजरी में शामिल श्रवण कुमार जाने-माने शिक्षाविद हैं। अपनी सामाजिक गतिविधियों के अलावा अंग्रेजी सहित कई अन्य विदेशी भाषाओं को पढ़ाने के लिए वे जाने जाते हैं।

अभिषेक आनन्द एक कम्प्यूटर इंजीनियर हैं। वर्तमान में वे इंदौर स्थित प्रसिद्ध सिंबायोसिस संस्थान में प्राध्यापक के तौर पर कार्यरत हैं।

मैथ गुरू के नाम से देश में प्रसिद्ध शिक्षक राहुल ने दिल्ली स्थित भारतीय सांख्यिकी संस्थान से मास्टर डिग्री पूरी करने के बाद पिछले सात सालों से छात्र-छात्राओं को मैथ एवं फिजिक्स पढ़ा रहे हैं।

रितेश अंबष्ठ भी एक कम्प्यूटर इंजीनियर हैं। विभिन्न संस्थाओं में पढ़ाने एवं ट्रेनिंग देने के अलावा इंडस्ट्री के क्षेत्र में कार्य का उन्हें लंबा अनुभव है।

कौशलेंद्र प्रताप सिंह देश के मीडिया जगत का एक जाना-माना नाम है। मीडिया के अलावा सामाजिक कार्यों में भी उनके उल्लेखनीय योगदान हैं।

सुशील कुमार नैन ने सिंबायोसिस कॉलेज से प्रबंधन की पढ़ाई पूरी करने के बाद पिछले कुछ सालों में प्रबंधन एवं मार्केटिंग के क्षेत्र में कार्य कर अपने महारथ को साबित किया है।

मो. कुमैल आलम का भी शिक्षा के क्षेत्र में लंबा कार्य-अनुभव है। वर्तमान में वे “तालीम” नाम की संस्था के अन्तर्गत पिछड़े क्षेत्र के छात्र-छात्राओं को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने का कार्य कर रहे हैं।

विशाल कुमार, सौरव कुमार, हिमांशु कुमार, सुष्मिता कुमारी एवं अर्जेश राज को छात्र नेता के तौर पर ज्यादा जाना जाता है। विशाल कुमार मैकेनिकल ब्रांच से इंजीनियरिंग करने के बाद समाज सेवा एवं राजनीति की राह पर आगे बढ़ चुके हैं। वहीं सौरव कुमार (पटेल) तकनीकी छात्र संगठन के अध्यक्ष हैं। तकनीकी छात्र संगठन का विस्तार बिहार के सभी इंजीनियरिंग कॉलेजों में है। छात्र नेता के तौर पर प्रसिद्धि पा चुके हिमांशु कुमार वर्तमान में पटना यूनिवर्सिटी के शोध छात्र हैं। सुष्मिता कुमारी इलेक्ट्रिकल इंजीनियर हैं। सामाजिक गतिविधियों में वे लगातार सक्रिय हैं। अर्जेश राज ने फार्मेसी विषय में अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद वर्तमान में एक प्रसिद्ध फार्मास्युटिकल कम्पनी में अपनी सेवाएं दे रहे हैं।

नेशनल एडवायजरी कमिटी के प्रमुख धनंजय कुमार सिन्हा ने बताया कि “फ्री ऑनलाइन एजुकेशन फॉर ऑल” के सपने को साकार करने के लिए युवाओं का एक समूह तैयार है। आगे चलकर कमिटी का विस्तार भी किया जायेगा एवं सक्षम लोगों को जोड़ा जायेगा। उन्होंने बताया कि इस अभियान से देशभर के योग्य शिक्षकों को जोड़ने का सिलसिला प्रारंभ कर दिया गया है। जल्द ही सकारात्मक परिणाम आने शुरू हो जायेंगे।

विदित हो कि टेक्नो हेराल्ड संस्थान ने अपने वरिष्ठ सलाहकार धनंजय कुमार सिन्हा के नेतृत्व में केजी टू पीजी तक फ्री ऑनलाइन एजुकेशन देने का अभियान शुरू किया है। इसके तहत विभिन्न विषयों एवं अध्यायों से संबंधित वीडियो लेक्चर्स यूट्यूब, फेसबुक जैसे सोशल मीडिया के माध्यमों से सार्वजनिक किया जायेगा जिसे छात्र-छात्राएं बिना कोई शुल्क दिए पढ़ सकेंगे।

धनंजय ने कहा कि इस अभियान का मुख्य उद्देश्य फ्री ऑनलाइन एजुकेशन उपलब्ध कराना है। इससे शिक्षा के क्षेत्र में अमीर-गरीब की खाई मिटेगी। इसी केंद्रीय उद्देश्य को लेकर अन्य सभी आवश्यक तैयारियां की जा रही हैं। धनंजय ने बताया कि यह प्लेटफॉर्म उन अन्य प्लेटफॉर्म की तरह नहीं होगा जहां शुरू में तो कुछ सैंपल्स फ्री दिखा दिए जाते हैं, और फिर रूचि जगाने के बाद आगे के वीडियो लेक्चर्स पाने के लिए शुल्क की मांग की जाती है। धनंजय ने इस बात को जोर देकर दोहराया कि टेक्नो हेराल्ड के इस प्लेटफॉर्म पर भविष्य में कभी भी छात्र-छात्राओं से किसी भी प्रकार के किसी शुल्क की मांग नहीं की जायेगी। छात्र-छात्राएं हमेशा इस प्लेटफॉर्म पर फ्री वीडियो लेक्चर्स पाते रहेंगे। वर्तमान में भी टेक्नो हेराल्ड (Techno Herald) के यूटयूब चैनल एवं फेसबुक पेज पर कुछ ऑनलाइन वीडियो लेक्चर्स उपलब्ध कराए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here