बाढ़ का पानी उतरते ही चारों तरफ दिख रहा तबाही का मंजर

0
22

परसा:-पिछले सप्ताह प्रखंड क्षेत्र के बलिगांव,परसौना पंचायत में आई प्रलयंकारी बाढ़ के पानी के उतरते ही चारों तरफ तबाही का मंजर दिख रहा है।गंडक नदी की तेज धारा में टूटी हुई सड़कें, किसानों के कठिन मेहनत के बल बूते लगाई गई धान, सब्जी की सड़ी गली पौधे एवं लोगों के गिरी हुई मिट्टी का घर, चारों तरफ बर्बादी का मंजर दिख रहा है। बेवश और विस्थापित हो बांध एवं स्कूलों में शरण लिए हुए बाढ़ पीड़ितों की दशा देख कर कलेजा कांप उठता है।इसके बावजूद सरकारी अधिकारियों की अकर्मण्यता से लोगों में गहरा आक्रोश दिख रहा है।वहीं बाढ़ के दौरान ध्वस्त हुई सड़कों की मरम्मत का कार्य शुरू नहीं होने से प्रखंड का अधिकांश गांवों का सड़क संपर्क पूरी तरह भंग है। इलाके के बाढ़ पीड़ित सरकारी सहायता के बिना लोग भुखमरी का शिकार हो जिल्लत की जिदगी जिने को विवश हैं।खासकर बलिगांव पंचायत के बहलोलपुर दियर,कालु बहलोलपुर,बलिगांव नदी तट सहित कई जगहों पर बाढ़ के पानी से सड़क बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुका है।तटीय क्षेत्र से सड़क पर जाने वाली टूटे सड़क पर ग्रामीणों ने सामुहिक श्रमदान से बांस का चचरी पुल निर्माण कर आवागमन चालू किया है।बलिगांव व परसौना पंचायत बीते एक सप्ताह से चारों ओर से बाढ़ के पानी से घिरा हुआ था। हलांकि पानी अब उतरना शुरू हो चुका है। किसानों के हजारों एकड़ लगी धान की फसल बाढ़ के पानी में बर्बाद हो चुकी है। बाढ़ के कारण विस्थापित परिवारों को कोई सरकारी सहायता नहीं मिली रही है। बाढ़ की विभिषिका के दौरान एक भी सरकारी अधिकारी कही भी दिखाई नहीं दे रहे हैं। जिससे बाढ़ पीड़ितों में भारी आक्रोश दिख रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here