बीईओ व लेखापालों से स्थापना डीपीओ ने किया शो कॉज

0
63

छपरा:-हड़ताल में नहीं रहने वाले शिक्षकों को वेतन नहीं देना बी ई ओ और लेखापालों को महंगा पड़ सकता है। स्थापना डीपीओ ने जिले के सभी बीईओ और लेखपालों से स्पष्टीकरण की मांग की है। डीपीओ ने पूछा है कि किस परिस्थिति में हड़ताल में शामिल नहीं रहने वाले शिक्षकों का वेतन भुगतान नहीं किया गया। इस बिंदु पर साक्ष्य के साथ 24 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण दें वरना कार्रवाई के लिए तैयार रहे। साथ ही उनका वेतन विपत्र भी उपलब्ध करावें ताकि भुगतान किया जा सके। शो कॉज का जवाब संतोषप्रद नहीं मिलने पर संबंधित बीईओ और लेखपालों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू करने की बात कही है। मालूम हो कि जिले में ऐसे भी कुछ शिक्षक थे जो हड़ताल में शामिल नहीं थे । वार्षिक माध्यमिक परीक्षा का मूल्यांकन भी किए। बावजूद उनका वेतन भुगतान अब तक नहीं किया जा सका। संबंधित शिक्षक वेतन भुगतान के लिए डीईओ व डीपीओ के कार्यालय का चक्कर लगाते रहे। सबसे ज्यादा छपरा नगर के शिक्षक इससे प्रभावित है । मालूम हो कि हड़ताल के दौरान ही शिक्षा विभाग ने एक पत्र जारी कर कहा था कि जो शिक्षक हड़ताल में शामिल नहीं है उनका वेतन भुगतान अविलंब कर दिया जाए। लेकिन अफसर और कर्मियों की लापरवाही व मनमर्जी के कारण हड़ताल वाले शिक्षकों का वेतन भुगतान कर दिया गया लेकिन हड़ताल में शामिल नहीं रहने वाले शिक्षकों का वेतन भुगतान के लिए कार्यालय का चक्कर लगवाया जा रहा है । हालांकि स्थापना डीपीओ के संज्ञान लेने पर उन शिक्षकों को वेतन भुगतान की आस जग गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here